दीनी तालीम के साथ दुनिया की तालीम पाना भी बच्चों का हक: एजाज

675

मदरसा इस्लामी मरकज भजनपुरा में हुई सेमिनार में वक्ताओं ने दिया कम्प्यूटर और अंग्रेजी शिक्षा पर जोर
बदायूं। मदरसा इस्लामी मरकज भजनपुरा, दिल्ली में सोमवार को हुई सेमिनार में दीनी तालीम बच्चों को दिलाने पर जोर दिया गया। मुख्य वक्ता चौधरी एजाज ने कहा कि आधुुनिक युग के हिसाब से ही बच्चों को तालीम मिलना जरूरी है। वरना आने वाले दिनों में वे खुद को पिछड़ा पाएंगे।
सेमिनार का आगाज कुरान की तिलाबत से हुआ। मुख्य वक्ता ने कहा कि दुनियाभर की जानकारी आजकल के छात्रों को होना जरूरी है। क्योंकि कब कैसे हालात आ जाएं, ऐसे में जानकारी के बिना छात्र अपनी समस्याओं का समाधान नहीं कर सकते। उन्होंने बताया कि दुनियाभर की जानकारियां जुटाने का सबसे अच्छा माध्यम कम्प्यूटर शिक्षा है। हालांकि इस शिक्षा को सही से समझने का आधार अंग्रेजी है। इसलिए जहां एक ओर मदरसों में कम्प्यूटर शिक्षा अनिवार्य हो, वहीं दूसरी ओर अंग्रेजी पर भी बल दिया जाना जरूरी है। दीनी तालीम के साथ दुनिया की तालीम पाना हर छात्र का अधिकार है और ये अधिकार उनसे कोई नहीं छीन सकता। उन्होंने बताया कि बच्चों के मोटिवेशन और एग्जाम की तैयारियों के संबंध में पहले से ही सेमिनार हो चुकी है। बाद में सभी बच्चों को चॉकलेट बांटी गईं। इस मौके पर चौधरी तहजीबुल साहब, इंजीनियर फरमान चौधरी, इंजीनियर जियाउल व इंजीनियर शाकिर के अलावा मदरसे के इमाम और करी साहब ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here